सबसे ज्यादा सैलरी वाली नौकरी : भारत की 20 सबसे ज्यादा सैलरी

ज्यादा सैलरी वाली नौकरी

Top 20 Highest Paying Government Jobs in India: युवाओं का सपना होता है कि वे ऐसी नौकरी करें, जिसमें उन्हें ज्यादा सैलरी मिलने के साथ-साथ अन्य तरह की सुविधाएं भी मिलें। ताकि वे अपना खर्च आसानी से चला सकें। ऐसे में आइए हम आपको बताते हैं भारत की उन 10 सरकारी नौकरियों के बारे में जिसमें सबसे अधिक पैसे के साथ-साथ सम्मान भी खूब मिलता है……

सबसे ज्यादा सैलरी वाली नौकरी

भारत में सबसे ज्यादा वेतन किस सरकारी नौकरी में है ? आज, केवल इंजीनियर या डॉक्टर नहीं हैं जो अच्छी तरह से नौकरी देने के साथ
शुरू करते हैं। भारत में सबसे ज्यादा सैलरी वाली नौकरी

1- IAS और IPS​

IAS और IPS देश में मैनेजमेंट और आगे ले जाने के लिए महत्वपूर्ण हैं। एक IPS को SP (पुलिस अधीक्षक) के रूप में तैनात किया जाता है और IAS को कलेक्टर सह DM (जिला मजिस्ट्रेट) के रूप में तैनात किया जाता है। आईएएस और आईपीएस उचित प्रशासन प्रदान करने के लिए पूर्ण सामंजस्य के साथ काम करते हैं। आईएएस और आईपीएस के लिए सातवें वेतन आयोग के तहत सैलरी दी जाती है।

एक आईएएस को शुरुआत में 56100 रुपए महीने की सैलदी जाती है। हालांकि, कुछ ही महीनों बाद सैलरी 1 लाख से ऊपर पहुंच जाती है। सैलरी के अलावा आईएएस और आईपीएस को यात्रा, स्वास्थ्य, आवास सहित कई तरह के भत्तों का भी पैसा दिया जाता है। इस पद के लिए अभ्यर्थियों का चयन यूपीएससी के तहत किया जाता है। इसके अलावा सिविल सर्विसेज की परीक्षा आयोजित की जाती है। चयन प्रीलिम्, मेंस और इंटरव्यू के बाद किया जाता है।

2 – NDA और डिफेंस सर्विसेज​

भारतीय सेना के तीन भाग है। भारतीय नौसेना, भारतीय वायु सेना प्रदान और भारतीय थल सेना। लेफ्टिनेंट पदों पर चयन के लिए यूपीएससी के तहत एनडीए, सीडीएस, एएफसीएटी आदि परीक्षा आयोजित की जाती है। अभ्यर्थियों का चयन प्रीलिम्, मेंस, जीडी, फिजिकल टेस्ट, पीईटी टेस्ट और इंटरव्यू के बाद किया जाता है।

भारतीय सेना चुनौतीपूर्ण काम करती है लेकिन उन्हें पदोन्नति की शानदार सुविधाएं मिलती हैं। साथ ही उन्हें अच्छा वेतन भी दिया जाता है। एक लेफ्टिनेंट की शुरुआती सैलरी 68000 रुपए होती है। वहीं, मेजर बनने पर सैलरी 1 लाख रुपए हो जाती है। इसके अलावा कई तरह के अन्य भत्ते भी जवानों को दिए जाते हैं।

3- इसरो, डीआरडीओ साइंटिस्ट और इंजीनियर​

अनुसंधान और विकास में रुचि रखने वाले इंजीनियरिंग अभ्यर्थी इसरो और डीआरडीओ में वैज्ञानिकों और इंजीनियरों के पद के लिए आवेदन कर सकते हैं। इन संगठनों में काम करने वाले व्यक्ति को आवास की उत्तम सुविधा प्राप्त होती है। साथ ही इन संस्थाओं में काम करने से आपको समाज में अपार सम्मान मिलता है। जानकारी के मुताबिक इन्हें शुरुआत में 60 हजार रुपए तक सैलरी मिलती है।हालांकि बाद में सैलरी लाख के करीब या फिर उससे ज्यादा भी हो जाती है।

​4- आरबीआई ग्रेड-B​

बैंकिंग के आरबीआई ग्रेड-बी में चयनित होने वाले अभ्यर्थियों को मोटी सैलरी मलती है। यदि आप बैंकिंग क्षेत्र में रुचि रखते हैं तो आरबीआई ग्रेड बी आपके करियर की शुरुआत करने के लिए सबसे अच्छा पद है। RBI में किसी को डिप्टी गवर्नर स्तर पर पदोन्नत किया जा सकता है। आरबीआई अलग से परीक्षा आयोजित करता है और चयनित अभ्यर्थियों को तीन बीएचके फ्लैट मिलता है। साथ ही वे अपने बच्चों को मुफ्त शिक्षा भी दे सकते हैं। आरबीआई ग्रेड बी के तहत चयनितों को 67000 रुपए शुरुआती सैलरी दी जाती है।

5- इंडियन फॉरेस्ट सर्विसेज​

इंडियन फॉरेस्ट सर्विसेज के तहत चयनित होने वाले अभ्यर्थियों को शुरुआत में 60000 रुपए तक की सैलरी दी जाती है। हालांकि, कुछ समय बाद सैलरी बढ़ भी जाती है और 1 लाख तक पहंच जाती है। इंडियन फॉरेस्ट सर्विसेज के लिए अभ्यर्थियों का चयन फॉरेस्ट सर्विसेज एग्जाम के तहत किया जाता है। इसके लिए यूपीएससी परीक्षा आयोजित करता है। अभ्यर्थियों का चयन प्रीलिम्, मेंस और इंटरव्यू के बाद किया जाता है।

6- पीएसयू जॉब्स​

PSU यानि कि सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम में नौकरी पाने के लिए इंजीनियरिंग के अभ्यर्थी GATE परीक्षा में शामिल होते हैं। भेल, आईओसीएल और ओएनजीसी जैसे विभिन्न संगठनों का वेतन अलग-अलग है। इसके अलावा जैसे-जैसे उनका पद बढ़ता है, वैसे-वैसे सैलरी भी बढ़ती जाती है। पीएसयू में चयनित इंजीनियरों को शुरुआती 60000 रुपए की सैलरी दी जाती है।

​7- असिस्टेंट प्रोफेसर और लेक्चरर​

विभिन्न कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में पढ़ाने वाले प्रोफेसर्स और लेक्चरर को शुरुआती सैलरी 50000 के करीब दी जाती है। हालांकि अनुभव और प्रमोशन के साथ सैलरी 1 लाख तक पहुंच जाती है।

8- स्टाफ सिलेक्शन कमीशन​

कर्मचारी चयन आयोग (SSC) के तहत चयनित ग्रुप बी और ग्रुप सी के ऑफिसर्स को शुरुआत सैलरी 45000 रुपए दी जाती है। हालांकि कुछ ही महीनों में सैलरी लाख के करीब हो जाती है। इन पदों पर अभ्यर्थियों का चयन टियर-1, टियर-2, टियर-3 और इंटरव्यू के बाद किया जाता है।

9- विदेश मंत्रालय के ASO को भी मिलती है मोटी सैलरी​

विदेश मंत्रालय में एएसओ के रूप में नौकरी पाने के लिए अभ्यर्थियों को एसएससी सीजीएल पास करना होगा। चयनित होने पर उन्हें रहने के साथ-साथ अच्छा वेतन भी मिलता है। इसके अलावा, उन्हें सर्वश्रेष्ठ अस्पतालों में मुफ्त चिकित्सा सुविधाएं भी मिलती हैं। इन्हें शुरुआत में सैलरी 1.25 लाख रुपए दी जाती है। बाद में सैलरी और भी ज्यादा बढ़ जाती है।

10- इंडियन फॉरेन सर्विसेज​

इंडियन फॉरेन सर्विसेज के पदों पर भर्ती के लिए लोक सेवा आयोग परीक्षा आयोजित करता है। इन पदों पर अभ्यर्थियों का चयन प्रीलिम्स, मेंस और इंटरव्यू के आधार पर होता है। इन्हें शुरुआती सैलरी 60000 रुपए मिलती है। हालांकि बाद में सैलरी बढ़कर लाख रुपए तक पहुंच जाती है।

11-वकील:

कानून एक ऐसा पेशा है जिसके लिए हमेशा अर्थव्यवस्था की स्थिति की परवाह किए बिना मांग की जाएगी। हालाँकि, कानून विभिन्न क्षेत्रों
जैसे आपराधिक, मुकदमेबाजी, कॉरपोरेट इत्यादि को समेटने वाला एक शब्द है। कॉर्पोरेट कानून वह शाखा है जो किसी कंपनी में कानून
की आवश्यकताओं को लागू करती है, जिससे बेहतर पैकेज बनते हैं। पेसेकेल के अनुसार, एक कॉर्पोरेट वकील लगभग प्रति वर्ष औसतन 7
लाख रुपये कमाता है। जब आप अच्छे लॉ स्कूलों से स्नातक होते हैं, तो पैकेज बहुत अधिक होते हैं।

12 – कमर्शियल पायलट:

भारत में सबसे अधिक भुगतान वाली नौकरियों में से एक और कम उम्र में, एक कमर्शियल पायलट की नौकरी सुनिश्चित करने के लिए
ग्लैमरस है। आरंभिक वेतन 1.5-2 लाख प्रति माह है। मैथ्स और फिजिक्स के साथ 12 वीं कक्षा पास करने के बाद ग्राउंड ट्रेनिंग के साथसाथ उड़ान के 200 घंटे की आवश्यकता के साथ प्रशिक्षण

13 -मैनेजमेंट प्रोफेशनल :

Marketing, Finance, Human Resources, Operations और Logistics जैसे व्यवसाय के सभी क्षेत्रों में एक और विस्तृत श्रेणी,
मैनेजमेंट प्रोफेशनल शामिल हैं, जो MBA की डिग्री के माध्यम से अनलॉक हो जाते हैं। आज, देश में बिज़नेस स्कूल हैं लेकिन सबसे अच्छे
स्कूल वे हैं जहाँ सभी छात्रों को कैंपस में भर्ती के माध्यम से रखा जाता है।

अच्छी खबर यह है कि आज कंपनियां कॉर्पोरेट भूमिकाओं में स्नातक की भर्ती करती हैं। हालांकि, यह भर्ती केवल शीर्ष कुछ कॉलेजों और
BBA, B.Com, B.A जैसे चयनित पाठ्यक्रमों में होती है।

14 – डॉक्टर :

भारतीयों को पीढ़ियों से अपने बच्चों को चिकित्सा पेशे में लाने का जुनून है। कारण, उस समय की तरह अब भी सच है। आपको एक अच्छे
मेडिकल कॉलेज के माध्यम से जाने के लिए, एमबीबीएस के दौरान कड़ी मेहनत करने और कम से कम 6 लाख सालाना रुपये का भुगतान
करने के लिए अच्छी तरह से सम्मानित नौकरियां प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत करने की आवश्यकता है। डॉक्टरों की मांग केवल बढ़ने
वाली है क्योंकिक्यों स्वास्थ्य देखभाल की आवश्यकता बढ़ती रहती है।

15 – मैनेजमेंट कंसलटेंट :

मैनेजमेंट कंसलटेंट कंपनियों या संस्थानों द्वारा नियुक्त किए जाते हैं, जब वे एक व्यावसायिक चुनौती को हल करना चाहते हैं। चूंकि चुनौती किसी भी उद्योग में हो सकती है, बहुत सारे विशेषज्ञ प्रबंधन परामर्शदाताओं द्वारा काम पर रखे जाते हैं और एमबीए एकमात्र डिग्री नहीं है जो आपको एक में मिल सकती है। परामर्श कई शोध भी करते हैं, जिसके लिए वे विविध कौशल देखते हैं। प्रबंधन परामर्श में प्रवेश स्तर की नौकरी एक साल में 8-10 लाख रुपये के उच्च वेतन पैकेज में आसानी से रोल कर सकती है।

16- सिविल सेवा

सिविल सेवा परीक्षा शायद भारत की सबसे पुरानी प्रवेश परीक्षा है, जिसकी शुरुआत अंग्रेजों ने देश में एक प्रशासनिक वर्ग की स्थापना के लिए की थी। आज भी यह बेहद प्रतिष्ठित है, और 7 वें वेतन आयोग ने शुरू से ही उच्च वेतन देने के साथ ही इसे आर्थिक रूप से आकर्षक भी बनाया है। आज एक प्रारंभिक सिविल सेवा अधिकारी को लगभग रु 80,000-85,000 सकल प्रति माह है।

17- चार्टर्ड एकाउंटेंट:

चार्टर्ड अकाउंटेंट पेशेवरों के एक और सदाबहार वर्ग हैं जो हमेशा मांग में रहेंगे, एक स्टार्टअप से लेकर बहु-राष्ट्री य तक हर कंपनी द्वारा उनके लेखांकन कौशल की आवश्यकता होती है।अपडेट के अनुसार, जो लोग एक ही प्रयास में सीए फाइनल क्लियर करते हैं, उन्हें आम तौर पर रुपये के उच्च-वेतन पैकेज की पेशकश की जाती है। 11-15 लाख जो आज भारत में सबसे अधिक वेतन देने वाले नौकरियों में से एक है।

18 – कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग :

हां, यह अभी भी भारत में सबसे अधिक भुगतान वाली नौकरियों में से एक है। आज तकनीकी प्रगति की गति और तकनीकी अंतरिक्ष में
इकसिंगों की संख्या को देखते हुए, जो विस्फोटक गति से बढ़ रहे हैं, इंजीनियरिंग के इस स्थान के लिए भविष्य अभी भी उज्ज्वल दिखता है।

आज भारत में बहुत सारे डिजिटल एमएनसी जैसे अमेज़न, माइक्रोसॉफ्ट, गूगल और फेसबुक के बड़े ऑपरेशन हैं, जिसके लिए वे हमेशा
स्थानीय प्रतिभाओं के शिकार पर रहते हैं। अधिकांश अच्छे इंजीनियरिंग कॉलेजों में भी कैंपस में अच्छी भर्तियां होती हैं।

19- कंपनी सचिव

विकिपीडिया के अनुसार, “कंपनी सचिव साथ के कुशल प्रशासन के लिए जिम्मेदार है, विशेष रूप से वैधानिक और विनियामक आवश्यकताओं के अनुपालन को सुनिश्चित करने के लिए और यह सुनिश्चित करने के लिए कि निदेशक मंडल के फैसले लागू होते हैं”। एक विशेष पाठ्यक्रम है जो लोगों को विशेषज्ञता के सही स्तर तक पहुंचने के लिए प्रशिक्षित करता है। आप भारत के इंस्टीट्यूट ऑफ कंपनी सेक्रेटरी के यहाँ विवरण पा सकते हैं। कंपनी सचिव के लिए प्रारंभिक वेतन 28,000 से 40,000 रुपये है।

20-मर्चेंट नेवी :

यदि आपके माता-पिता को लगभग आपको समुद्र तट से दूर ले जाना पड़ता है, तो यह नौकरी आपके लिए हो सकती है। मर्चेंट नेवी ने लोगों के क्रू को संदर्भित किया है। समुद्र में 6-9 महीनों के साथ नौकरी सामाजिक रूप से मांग और शारीरिक रूप से चुनौतीपूर्ण हो सकती है। शुरुआती वेतन के साथ भारत में सबसे अधिक भुगतान करने वाली नौकरियों में से एक है।

How To Earn lac/Month
सबसे ज्यादा सैलरी वाली नौकरी : भारत की 20 सबसे ज्यादा सैलरी
error: Content is protected !!